'प्यारी बेटी' योजना के अंतर्गत मिलेंगे बेटी के भविष्य के लिए एक लाख रुपये

 11 Oct 2023  828

संवाददाता/in24 न्यूज़। 
नवरात्रि उत्सव के मौके पर महाराष्ट्र सरकार ने बड़ा ऐलान किया है. मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने गरीब के घर पैदा होने वाली बेटियों को 1 लाख 1 हजार रुपये देने की कल्याणकारी योजना लागू करने की घोषणा की है। इस योजना का नाम 'लेक लाडकी' यानी 'प्यारी बेटी' योजना है। मंगलवार को राज्य मंत्रिमंडल ने इस योजना को मंजूरी दे दी है। इसके साथ ही राज्य सरकार की 'माझी कन्या भाग्यश्री' योजना को भी इसी योजना में समाहित कर दिया गया है। मंत्रिमंडल की बैठक के बाद महिला और बाल विकास मंत्री अदिति तटकरे ने इस बात की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि मार्च में पास किए गए बजट में सरकार ने इसकी घोषणा की थी, जिसका प्रस्ताव मंगलवार को मंत्रिमंडल के समक्ष पेश किया गया। बैठक की अध्यक्षता मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने की। इस बैठक में उप मुख्यमंत्री अजित पवार भी उपस्थित थे।       

       बता दें कि राज्य में शुरू होने वाली इस योजना में गरीब के घर बेटी पैदा होने से लेकर 18 वर्ष होने तक थोड़े-थोड़े पैसे दिए जाएंगे। इस योजना का मकसद लड़कियों की जन्मदर बढ़ाना है। सरकार की योजना का लाभ राज्य में रहने वाले उन गरीब परिवार में पैदा होने वाली बेटी को मिलेगा, जिनके पास पीले या ऑरेंज राशन कार्ड हैं और जिनकी सालाना आय एक लाख रुपये से कम होगी। योजना का लाभ 1 अप्रैल 2023 के बाद जन्म लेने वाली बेटी को मिलेगा। अगर किसी के घर जुड़वा बेटी पैदा होती हैं, तो दोनों बेटियों को इसका लाभ मिलेगा। अगर किसी को एक बेटा और एक बेटी पैदा होती है, तो सिर्फ बेटी को लाभ मिलेगा। महाराष्ट्र में 2023 के आर्थिक सर्वे  की रिपोर्ट के मुताबिक, दिसंबर 2022 तक महाराष्ट्र में कुल राशन- कार्ड धारकों की संख्या 2.56 करोड़ हैं, जिनमें 1.71 करोड़ ऑरेंज, 62.60 लाख पीले राशन कार्ड हैं। यानी सरकार की इस योजना का लाभ 2.3 करोड़ परिवारों को मिलेगा।